Sale!

Manusamriti Hindi

101.00 0.00

मनुस्मृति एक महत्वपूर्ण शास्त्र ग्रंथ है, जिसमें पिछले दो हजार वर्षों से हिन्दू समाज की संरचना में महत्वपूर्ण योगदान दिया है। मनुस्मृति के अनुसार सारे समाज को चार वर्णों और सभी प्राणियों के जीवन को चार आश्रमों में बांटा गया है, जो वैज्ञानिक होने के साथ-साथ उपयुक्त एवं तर्कसंगत भी है। यहां ऋषि मनु द्वारा रचित मनुस्मृति डाउनलोड कर पढ़ने के लिए दिया जा रहा है।

मनुष्य ने जब से जीवन के विकास के लिए प्राण, सम्पत्ति और सम्मान की सुरक्षा के रूप में किसी अधिनिष्ठान की आवश्यकता को अनिवार्य माना, तभी से समाज और राष्ट्र के अस्तित्व और महत्व को मान्यता मिली तथा व्यक्ति द्वारा एक-दूसरे के प्रति आचरणीय विधान को निश्चित करना भी आवश्यक हो गया। व्यक्ति को सभ्य, सुसंस्कृत और सामाजिक बनाने के लिए, उसके सर्वतोमुखी विकास के लिए, परिवार में उसके स्थान के निर्धारण के लिए, स्त्री-पुरूष के सम्बन्ध की समुचित व्यवस्था के लिए, व्यक्ति द्वारा संचित सम्पत्ति के उत्तराधिकार के साथ-साथ उसके कर्तव्यों और अधिकारों की व्याख्या निर्धारित करने तथा नियमों के अतिक्रमण करने पर दण्ड-व्यवस्था करने की आवश्यकता उत्पन्न हुई। इन्हीं आवश्यकता के पूरक ग्रन्थों को ‘स्मृति’ नाम दिया गया, जिन्हें कालान्तर में शास्त्र के रूप में प्रतिष्ठा मिली।

In stock

Category:

Additional information

Format :

PDF

Language :

Hindi

Provided By :

Free Distribute by http://www.pdfhub.in

Notes :

यदि किसी को भी इस PDF बुक पर एतराज है तो वो contact@pdfhub.in पर संपर्क कर सकता है। उनके एतराज पर इस लिंक को हटा दिया जाएगा।

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Manusamriti Hindi”